पूर्व पाकिस्तानी कप्तान का वार, अपने ही इन 2 खिलाड़ियों पर बरसे

नमस्कार दोस्तों आईसीसी पुरुष टी20 वर्ल्ड कप के लिए पाकिस्तान टीम का भी ऐलान हो चुका है. आगामी प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के लिए ग्रीन टीम में शाहीन शाह आफरीदी समेत कई खिलाड़ियों की वापसी हुई है.

वहीं कई खिलाड़ियों को बाहर का रास्ता दिखाया गया है. टी20 वर्ल्ड कप के लिए जब से पाक टीम का ऐलान हुआ है तब से पड़ोसी देश के पूर्व खिलाड़ी 15 सदस्यीय टीम पर अपना विचार साझा कर रहे हैं.

इसी कड़ी में पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोहम्मद हफीज ने भी आगामी टूर्नामेंट के लिए चुने गए खिलाड़ियों पर अपना विचार साझा किया है.

पाक पूर्व कप्तान ने मिडिल ऑर्डर पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने सर्वाधिक जिन दो खिलाड़ियों पर निशाना साधा है वह निचले क्रम के खिलाड़ी खुशदिल शाह और आसिफ अली हैं.

 

उनका मानना है कि ये दोनों खिलाड़ी पारी संवारने में नाकाम रहे हैं. उनका कहना है ये दोनों ही खिलाड़ी पारी संवारने में विश्वास नहीं रखते और ये दोनों ही वन-डाइमेंशनल वाले खिलाड़ी हैं.

हफीज ने खुशदिल शाह के बारे में बात करते हुए कहा, उनका स्ट्राइक रेट 110 का है, और हम उन्हें अंतररष्ट्रीय हिटर के रूप में देखते हैं, जो सही नहीं है. हमें ऐसे हालात में गहराई तक जाना चाहिए. इसके अलावा उन्होंने मध्यक्रम पर दबाव न झेल पाने की काबिलियित पर भी सवाल उठाए हैं.

मोहम्मद हफीज का मानना है कि हमें खुद से सवाल करने की जरूरत है कि क्या चुने गए खिलाड़ियों में दबाव सहन करने की क्षमता है? क्या वो पारी संवार सकते हैं? हमने इन खिलाड़ियों को इसलिए चुना है क्योंकि हमारे शीर्ष क्रम को सेट होने में समय लगता है, जो कि बेहद ही हास्यास्प्रद है.

 

हफीज का कहना है रिजवान और बाबर नंबर एक सलामी बल्लेबाज हैं, लेकिन उन्हें रन बनाने के लिए अपनी भूख दिखानी होगी. मैंने पहले भी इन बल्लेबाजों की सराहना की है, लेकिन अगर इन दोनों बल्लेबाजों को किसी पहलु पर काम करने की जरूरत है तो वह है उन्हें तेज गति से रन बनाने की.

उन्होंने तर्क देते हुए कहा कि अगर आप पहला पावरप्ले भी खेल जाते हैं, और शुरूआती 10 ओवरों में 60-65 रन बनाते हैं तो यह कैसे चलेगा. अगर आप शुरुवाती छणों में ऐसी बल्लेबाजी करते हैं तो मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों को बचे ओवरों में 12 से 14 रन प्रति ओवर बनाने होंगे, जो तर्कसंगत नहीं लगता है.